न्यूज़ ऑनलाइन संवाददाता, इलाहाबाद : बारिश के चलते जनजीवन ठहर सा गया। जो जहां था वहीं घंटों फंसा रहा। बच्चों व महिलाओं को सबसे अधिक दिक्कत से जूझना पड़ा। बारिश से बचने के लिए सड़क के किनारे बनी दुकान व मकान लोगों के शरणस्थली बने। उम्मीद थी कि पानी जल्द निकल जाएगा, लेकिन वैसा हुआ नहीं। इसके चलते दो घंटे तक उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ा। बारिश के चलते सड़क के किनारे लगने वाली दुकानें बंद हो गई। ठेला व खोमचा वाले अपना सामान समेटकर वापस लौट गए।

बुधवार की शाम बारिश शुरू हुई तो बच्चे व युवा कोचिंग के लिए निकले थे। जबकि कुछ वापस लौट रहे थे। मदन मोहन मालवीय स्टेडियम, अमिताभ बच्चन स्पोर्ट्स कामलेक्स में जो बच्चे खेलने जाते हैं बारिश होने पर वह भी फंस गए। बारिश के चलते दफ्तरों से निकले लोग भी फंस गए। वशिष्ठ वात्सल्य एकेडमी में खेलने गए बच्चे देव, वेद, आर्य, अरविंद, अभिनव घर नहीं जा पाए। वह रात आठ बजे तक वहीं खड़े रहे। जानसेनगंज में वृद्धा मालती देवी, रोमा व सोनम फंसी रही। करेली, नखास कोहना, चौक व घंटा घर में सैकड़ों लोग इधर-उधर दुबके रहे। इसके अलावा जार्जटाउन, टैगोर टाउन में बच्चे से लेकर बड़े तक फंसे रहे।

——

दुकानों में घुसा पानी

बारिश होने से सैकड़ों दुकानों में पानी भर गया। इसके चलते उनके कपड़े, खिलौने, जूता-चप्पल व खाने-पीने के सामान बर्बाद हो गए। सबसे ज्यादा नुकसान कोठापार्चा, मुट्ठीगंज, बैरहना, करेली, चौक में हुआ। यहां बारिश का पानी दुकानों में प्रवेश किया तो दुकानदार असहाय नजर आए। उन्होंने अपना सामान निकालने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिल पायी।

——

बारिश के बाद जाम से जूझे

बारिश धीमी होने के बाद लोगों को घंटों जाम से जूझना पड़ा। अचानक सड़कों पर वाहनों की लंबी कतार लग गई। लेकिन सड़क पर गड्ढा होने एवं जगह-जगह पानी भरा होने के चलते वाहन रेंगते नजर आए। जबकि जहां गड्ढे थे, उसमें कई वाहन फंस गए। स्थिति यह रही कि सिविल लाइंस से हाईकोर्ट की ओर से जंक्शन रेलवे स्टेशन जाने पर लोगों को दो से तीन घंटे का समय लग गया। जबकि जानसेनगंज से चौक की ओर जाने वाले वाहन घंटों इधर-उधर फंसे रहे।

—–

युवाओं ने लिया आनंद

मानसून की पहली बारिश का युवाओं ने जमकर लुत्फ उठाया। मद-मस्त माहौल में युवा खूब घूमे। सिविल लाइंस में बाइक में बैठकर युवा चक्कर काटते रहे। जबकि कुछ पैदल ही सड़कों में घूमते नजर आए।

By Jagran