जासं, भुवनेश्वर : तेरापंथ महिला मंडल भुवनेश्वर की ओर से राजधानी के तेरापंथ भवन में धूमधाम के साथ तीज महोत्सव आयोजित किया गया। इस अवसर पर महिला मंडल के साथ कन्या मंडल की सदस्यों ने भी भाग लिया। महोत्सव के शुभारंभ के मौके पर महिला मंडल की अध्यक्ष शशि सेठिया, उपाध्यक्ष मधु गेड़िया, उपमंत्री मुक्ता सेठिया, प्रचार मंत्री मीनू वेद के साथ कार्यकारिणी सदस्य सोनू गोल्छा, सुनीता खटेर, विनीता सुराणा, विनीता दुधेड़िया आदि बहनों ने समारोह को सफल बनाने में अपना सक्रिय योगदान दिया। इस अवसर पर राजस्थानी परिधान, राजस्थानी परिचय, राजस्थानी नृत्य-गीत आदि कार्यक्रम आयोजित किए गए, जिसमें मंडल की तमाम बहनों एवं कन्या मंडल की सदस्यों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। सभी ने अपनी प्रतिभा के अनुसार विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिता के निर्णायक (जज) के तौर पर फ्रेंड्स ऑफ ट्राईवल सोसाइटी के महिला मंडल की अध्यक्ष सुधा खंडेलवाल एवं मानसी अग्रवाल उपस्थित रही।

इस अवसर पर महिला मंडल की अध्यक्ष शशि सेठिया ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इस साल महिला मंडल का रजत वर्ष है। इससे साल भर विभिन्न प्रकार कार्यक्रम महिला मंडल के ओर से नियमित रूप से आयोजित की जा रही है। तीज महोत्सव इसमें से एक है। तीज फेस्टिवल आयोजित करने का उद्देश्य अपनी नई पीढ़ी को अपनी प्राचीन परंपरा, धरोहर, इतिहास आदि के बारे में जानकारी देना है। उन्होंने कहा कि आज के इस फेस्टिवल में राजधानी भुवनेश्वर में रहने वाले तमाम जैन समाज की महिला एवं कन्याओं ने भाग लेकर कई अहम जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि सावन माह को आमतौर पर धाíमक माह के रूप में मनाया जाता है, ऐसे में इस अवसर पर उपस्थित सदस्यों के साथ धाíमक विषय पर भी चर्चा हुई। मौन, स्वाध्याय, तपस्या करने के लिए लोगों को प्रेरित किया गया। गौरतलब है कि ओडिशा में जिस प्रकार से रज महोत्सव मनाया जाता है उसी प्रकार से राजस्थान में तीज महोत्सव मनाया जाता है।

By Jagran